भय

शब्‍दों से सबसे ज्‍यादा भय उन्‍हे लगना चाहिए जो उनका भार पहचानते है, लेखक, कवि और वे जिनके लिए शब्‍द ही यथार्थ है।  -- अन्‍ना कामीएन्‍स्‍का 
एक टिप्पणी भेजें