मंगलवार, जून 14, 2011

भगवन

ईशावास्यमिदं सर्व यत्किज्च जगत्यां जगत
भगवन इस जग के कण कण में विद्यमान है !
एक टिप्पणी भेजें