AddThis Smart Layers

.
We ♥ feedback

विजय

जब तक मन नहीं जीता जाता, राग-द्वेष शांत हीं होते , तब तक मनुष्‍य इंद्रियों का गुलाम बना रहता है।-- विनोबा भावे

Comments :

0 COMMENTS to “विजय”

Cool Labels by CBT

आगमन संख्‍या

कुल पेज दृश्य

 
ब्लोगवाणी ! चिठाजगत ! INDIBLOGGER ! BLOGCATALOG ! NetworkedBlogs ! INDLI ! VOICE OF INDIANS

Copyright © 2009 by "ऐसी वाणी बोलिए..........." ! Template by Blogger Templates | Powered by Blogger ! QUATATIONS !

| !