प्राण

शरीर में जो स्‍थान प्राण का है, वही स्‍थान राष्‍ट्र में नेता का होता है। -- लोकमान्‍य तिलक

एक टिप्पणी भेजें