AddThis Smart Layers

.
We ♥ feedback

मन

मन सभी प्रवृतियों का अगुआ है । यदि कोई दूषित मन से कटु वचन बोलता है दूषित कर्म करने को तत्‍पर रहता है  तो दुख भी उसका अनुसरण करने लगता है। -- धम्‍मपद

Comments :

Cool Labels by CBT

आगमन संख्‍या

कुल पृष्ठ दृश्य

 
ब्लोगवाणी ! चिठाजगत ! INDIBLOGGER ! BLOGCATALOG ! NetworkedBlogs ! INDLI ! VOICE OF INDIANS

Copyright © 2009 by "ऐसी वाणी बोलिए..........." ! Template by Blogger Templates | Powered by Blogger ! QUATATIONS !

| !