क्रोध

क्रोध कभी भी बिना कारण नहीं होता लेकिन कदाचित ही यह कारण सार्थक होता है।--- बेंजामिन फ्रैंकलिन 

कोई टिप्पणी नहीं: