अध्‍ययन

मस्तिष्‍क के लिए अध्‍ययन की उतनी ही जरूरत है जितनी शरीर के लिए व्‍यायाम की। --- जोसेफ एडीसन
एक टिप्पणी भेजें