विश्‍वास

अपने गुरू में पूर्ण रूप से विश्‍वास करें यही साधना है । --- साई बाबा 

कोई टिप्पणी नहीं: