शुक्रवार, अक्तूबर 04, 2013

पारिस्थितिकी

अगर हम अपनी पारिस्थितिकी बिगाड़ते है तो समझ लीजिए कि हम अपना समाज नष्‍ट कर रहे है। --- मार्गरेट मीड
एक टिप्पणी भेजें