शुक्रवार, दिसंबर 06, 2013

सम्‍भावना

जब तक कोइ्र व्‍यक्ति अपनी सम्‍भावनाओं से अधिक कार्य नहीं करेगा तब तक उसके द्वारा वह सब कुछ नहीं किया जा सकता जो वह कर सकता है। --- हेनरी ड्रमॉन्‍ड
एक टिप्पणी भेजें