निर्माण

अपनी क्षमताओं को जान कर और उनमे यकीन करके ही हम एक बेहतर विश्व का निर्माण कर सकते हैं।- दलाई लामा"
एक टिप्पणी भेजें