मुस्‍कान

जो लुट जाने पर भी मुस्‍कुराता है वह चोर का सब कुछ चुरा लेता है। --- शेक्‍सपीयर 

कोई टिप्पणी नहीं: