AddThis Smart Layers

.
We ♥ feedback

भारत

भारत हमारी जाति की मातृभूमि था, और संस्कृत यूरोप की भाषाओं की जननी : वो हमारे दर्शन की जननी थी; अरबों के माध्यम से हमारे गणित के अधिकतर ज्ञान की जननी; बुद्ध के माध्यम से क्रिस्चैनिटी में अपनाये गए आदर्शों की जननी; ग्रामीण समुदायों के माध्यम से सुशासन और लोकतंत्र की जननी। भारत माता कई मायनों में हम सबकी माता है | --- विल ड्यूरेंट

Comments :

0 COMMENTS to “भारत ”

Cool Labels by CBT

आगमन संख्‍या

कुल पृष्ठ दृश्य

 
ब्लोगवाणी ! चिठाजगत ! INDIBLOGGER ! BLOGCATALOG ! NetworkedBlogs ! INDLI ! VOICE OF INDIANS

Copyright © 2009 by "ऐसी वाणी बोलिए..........." ! Template by Blogger Templates | Powered by Blogger ! QUATATIONS !

| !