सहायता

कृतज्ञ व्यक्ति की हमेशा सहायता के लिए तैयार रहना चाहिए। कृतघन से सदैव दूरी बना कर ही विचरण करना चाहिए। -- मिथ्या वाचस्पति

एक टिप्पणी भेजें