उपदेशक

चींटी से अच्छा उपदेशक कोई और नहीं है । वह काम करते हुए खामोश रहती है। 

कोई टिप्पणी नहीं: