खुशी

बीता हुआ कल आज की याद है और आने वाला कल आज का स्वप्न। 

कोई टिप्पणी नहीं: