पारदर्शिता

अपने व्यवहार में पारदर्शिता लाएं। अगर आप में कुछ कमियां हैं भी, तो उन्हें छिपाएं नहीं। क्योंकि ईश्वर के सिवाय कोई भी पूर्ण नहीं है। 
एक टिप्पणी भेजें