सम्मान

सम्मान रहित सफलता नमक रहित भोजन जैसी है, इससे भूख भले मिट जाए पर यह स्वादिष्ट नहीं होगी। 
एक टिप्पणी भेजें