समृद्ध

इस दुनिया में जो कुछ हम अर्जित करते हैं, उससे नहीं अपितु जो कुछ त्याग करते हैं, उससे हम समृद्ध बनते हैं। 

एक टिप्पणी भेजें